lekhak: अम्बर पाण्डेय

अम्बर पाण्डेय : प्रेम कथा

 ‘मैंने अन्त: वस्त्रों को देर तक सूँघावे अन्त: वस्त्र वहाँ सूख अवश्य रहे थे मगर धुले हुए नहीं थे. इस ...

पातकी रूढ़ि : अम्बर पाण्डेय

अम्बर पाण्डेय की नई कहानी ‘पातकी रूढ़ि’ पृष्ठभूमि, विषय और भाषा तीनों स्तरों पर विस्मित करती है. अम्बर आख्यान अतीत ...