गैलरी

गांधी अगर पाकिस्तान जाते तो क्या होता ?: असग़र वजाहत से के. मंजरी श्रीवास्तव की बातचीत

वरिष्ठ लेखक और नाटककार असग़र वजाहत ने 2012 में नाटक लिखा था- ‘गोडसे@गांधी. कॉम’. इधर उन्होंने अपना नया नाटक पूरा...

Read more

बुलडोज़र: कविताएँ

कविताएँ प्रतीकों का इस्तेमाल करती हैं, उन्हें बदल भी देती हैं और उनके सामने प्रतिरोध में खड़ी भी हो जाती...

Read more
Page 1 of 2 1 2