समीक्षा

आशुतोष राना का रामराज्य: यतीश कुमार

आशुतोष राना का रामराज्य: यतीश कुमार

आशुतोष राना हिंदी सिनेमा के उन कुछ अभिनेताओं में से एक हैं जो हिंदी में लिखते और सोचते हैं, संजीदा कलाकार हैं. इधर उन्होंने एक पुस्तक लिखी है ‘रामराज्य’. इसकी...

नैना से पिशाच तक: भगवानदास मोरवाल

नैना से पिशाच तक: भगवानदास मोरवाल

उपन्यास सामाजिक अध्ययन की दृष्टि से बड़े काम के होते हैं, यहाँ तक कि जिन्हें हम ‘लोकप्रिय साहित्य’ कहते हैं उनकी भी गम्भीर विवेचनाएँ हुईं हैं. समाज के अंदर पसर...

कुलभूषण का नाम दर्ज कीजिए: शंपा शाह

कुलभूषण का नाम दर्ज कीजिए: शंपा शाह

अपने पहले ही उपन्यास- ‘कलि-कथा: वाया बाइपास’ (1998) से चर्चित अलका सरावगी महत्वपूर्ण उपन्यासकार हैं, इधर उनका नया उपन्यास ‘कुलभूषण का नाम दर्ज कीजिए’ वाणी प्रकाशन से प्रकाशित हुआ है...

फासीवाद के ख़िलाफ़ प्रतिरोध की कविताएं: रमेश अनुपम

फासीवाद के ख़िलाफ़ प्रतिरोध की कविताएं: रमेश अनुपम

‘स्मृति एक दूसरा समय है’ मंगलेश डबराल का अंतिम कविता संग्रह है, सत्ता (ओं) से लड़ते हुए उनकी कविताएँ यहाँ अधिक मूर्त हुईं हैं. इस संग्रह की चर्चा कर रहें...

कथा कहो यायावर: देवेंद्र मेवाड़ी: नवीन जोशी

कथा कहो यायावर: देवेंद्र मेवाड़ी: नवीन जोशी

वरिष्ठ विज्ञान-लेखक देवेंद्र मेवाड़ी साहित्य के भी लेखक हैं, इसे साबित करने के लिए उनकी यह पुस्तक- ‘कथा कहो यायावर’ पर्याप्त है. हिन्दी में विज्ञान और विज्ञान-गल्प लेखन की अपार...

दूसरा जीवन: कृष्णा सोबती की जीवनी (गिरधर राठी): कश्मीर उप्पल

दूसरा जीवन: कृष्णा सोबती की जीवनी (गिरधर राठी): कश्मीर उप्पल

कृष्णा सोबती का लेखन बहुआयामी है, उनका जीवन आवरण से ढंका हुआ उन्हीं की तरह. उनके सार्वजनिक निर्णय उसे और जटिल बनाते रहे हैं. गिरधर राठी ने रज़ा फाउण्डेशन की...

परंपरागत प्रसाद का क्रांतिकारी भाष्य: दिनेश कुमार

परंपरागत प्रसाद का क्रांतिकारी भाष्य: दिनेश कुमार

हिंदी की बीसवीं शताब्दी के कुछ सबसे महत्वपूर्ण लेखकों में से एक जयशंकर प्रसाद हैं. कविता, कहानी, नाटक, उपन्यास, और आलेख इन सभी विधाओं में उनका कार्य आज भी प्रासंगिक...

विष्णु खरे: एक दुर्जेय मेधा: ब्रजेश कृष्ण

विष्णु खरे: एक दुर्जेय मेधा: ब्रजेश कृष्ण

ब्रजेश कृष्ण प्राचीन इतिहास, संस्कृति और पुरातत्व के अध्येता, विद्वान हैं और हिंदी के कवि भी. अपने इस आलेख को उन्होंने प्रकाश मनु की किताब ‘एक दुर्जेय मेधा: विष्णु खरे’...

ईश्वर के बीज: विचार और स्वप्न: शंपा शाह 

ईश्वर के बीज: विचार और स्वप्न: शंपा शाह 

विनोद शाही की ख्याति आलोचक-विचारक की है. इधर किसान आन्दोलन की वैचारिकी से सम्बन्धित उनके कई आलेख प्रकाशित हुए हैं. ‘ईश्वर के बीज’ उनका उपन्यास है जिसे इसी वर्ष (२०२१)...

क़यास के बारे में कुछ क़यास: ख़ालिद जावेद

क़यास के बारे में कुछ क़यास: ख़ालिद जावेद

कवि, कथाकार, संपादक, अनुवादक तथा पेशे से चिकित्सक और अध्यापक उदयन वाजपेयी का उपन्यास ‘क़यास’ २०१९ में राजकमल प्रकाशन से प्रकाशित हुआ है. इस उपन्यास पर उर्दू के इस समय...

Page 1 of 10 1 2 10

पठनीय पुस्तक

इस सप्ताह की किताब