Uncategorized

संगीता गुप्ता : शब्द और चित्र

संगीता गुप्ता चित्रकार और कवयित्री हैं. उनके चित्रों की देश-विदेश में ३० एकल और २०० से अधिक सामूहिक प्रदर्शनियाँ आयोजित हुईं हैं. कई कविता संग्रह और हिंदी-अंग्रेजी में कुछ किताबें...

बचपन का नाटक : व्योमेश शुक्ल

(photo credit Gaurav Girija Shukla)कवि व्योमेश शुक्ल की रंगमंचीय सक्रियता ने ध्यान खींचा है. छोटे-बड़े शहरों में वह लगातार नाट्य-रूपकों का प्रदर्शन कर रहें हैं. उनके पास इस माध्यम और इससे...

लमही : हमारा कथा-समय – 2 : शशिभूषण मिश्र

विजय राय द्वारा संपादित पत्रिका ‘लमही’ के हिंदी कथा-साहित्य पर केन्द्रित अंक के दूसरे खंड ‘हमारा कथा-समय-2’ में ४८ कथाकारों पर आलोचकों और विवेचकों ने अपनी आलोचना प्रस्तुत की है....

हेल्लारो (હેલ્લારો- Hellaro) : वर्जनाओं से मुक्ति : सत्यदेव त्रिपाठी

\'ढोज्या में ढोज्या ते दीधेला घूँट, हवे माँझी झाँझरीने बोलवानी छूट.\'गुजराती भाषा की फिल्म ‘हेल्लारो’ को 66वें भारतीय फिल्म पुरस्कार समारोह में देश की सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के सम्मान से नवाजा...

वसु गंधर्व : किसी रात की लिखित उदासी में

(वसु गंधर्व विनोद कुमार शुक्ल के साथ )वसु गंधर्व (8 फरवरी २००१) की काव्य पुस्तिका \'किसी रात की लिखित उदासी में\' का प्रकाशन रचना समय ने किया है. इसकी भूमिका...

स्त्री चिंतन की चुनौतियाँ : रेखा सेठी

जिसे हम स्त्री-लेखन कहते हैं उसमें अस्मिता और चेतना के साथ-साथ अनुभव का प्रामाणिक संसार और भाषा की नई उड़ान भी है. स्त्री लेखन पर रेखा सेठी  पिछले कई वर्षों...

हरिवंशराय बच्चन : कवि नयनों का पानी : पंकज चतुर्वेदी

हरिवंशराय बच्चन की कविता के प्रशंसकों में अज्ञेय, शमशेर बहादुर सिंह और रघुवीर सहाय जैसे कवि शामिल हैं वहीँ प्रसिद्ध आलोचक नामवर सिंह का मानना था कि \'बच्चन की कविता...

शशिभूषण का अपना एक स्टाइल है : हरे प्रकाश उपाध्याय

कथाकार शशिभूषण द्विवेदी (जन्म- 26 जुलाई 1975, सुल्तानपुर, उत्तर प्रदेश) के दो कहानी संग्रह- ‘ब्रह्महत्या तथा अन्य कहानियाँ’ और ‘कहीं कुछ नहीं’प्रकाशित हैं. उन्हें ‘ज्ञानपीठ नवलेखन पुरस्कार’, ‘सहारा समय कथा...

मति का धीर : लक्ष्मीधर मालवीय

मदनमोहन मालवीय के पौत्र लक्ष्मीधर मालवीय हिंदी के शिक्षक, भाषाशास्त्री, संपादक, कथाकार, चित्रकार आदि तो थे ही जापान में उनका घर लेखकों का एक सहज आत्मीय अड्डा भी बना रहा....

कथा-गाथा : अवशिष्ट : नरेश गोस्वामी

नरेश गोस्वामी की कहानियाँ आप समालोचन पर पढ़ते आ रहें हैं, आम नागरिक की लाचारी और डर को जिस तरह से वह लगातार लिख रहे हैं, वैसा अब तक देखने...

Page 2 of 75 1 2 3 75

फ़ेसबुक पर जुड़ें

पठनीय पुस्तक/ पत्रिका

इस सप्ताह