कथा

कथा – गाथा : अपर्णा मनोज

पेटिंग : Saqiba Haq                       परम्पराएँ जब धर्म का आवरण ओढ़ लेती हैं तब उनका शिकंजा और सख्त हो जाता है. अगर...

बाहरी दुनिया का फालतू: तरुण भटनागर

बाहरी दुनिया का फालतू: तरुण भटनागर

युवा चर्चित कथाकार तरुण भटनागर की कहानिओं में आदिम सभ्यता में आधुनिक कही जाती संस्कृति की घुसपैठ की कथा मिलती है. और एक बड़ा सवाल भी कि आख़िरकार ‘मार्डन’ होना...

कथा – गाथा : अपर्णा मनोज

अपर्णा मनोज की कहानिओं ने इधर अपनी पहचान बनाई है. प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में वह लगातार छप रही हैं. ‘ख़ामोशियों का मुल्क’ में एक ही शहर में, एक ही नदी के...

ढिबरियों की कब्रगाह: तरुण भटनागर

ढिबरियों की कब्रगाह: तरुण भटनागर

युवा कथाकार तरुण भटनागर की यह कहानी विस्मित करती है. आदिवासी समाज की संवेदना और यथार्थ  के कई  आयाम यहाँ सामने आ रहें हैं.  तरुण के पास संवेदनशील भाषा है.

कथा – गाथा : अपर्णा मनोज

अपर्णा मनोज अपनी कहानिओं के लिए पूरी तैयारी करती हैं. चाहे उसका मनोवैज्ञानिक पक्ष हो यह उसका वातावरण. यह कहानी नैनीताल की पृष्भूमि पर है. यह स्त्रीत्व की यात्रा की...

प्रभात रंजन: अनुवाद की गलती

प्रभात रंजन: अनुवाद की गलती

प्रभात रंजन प्रतिनिधि हिंदी युवा कथाकार हैं. हिंदी कहानी को एकरेखीय स्थूलता से मुक्त करके उसे अपने समय और संकट से जोड़ने का जो उपक्रम इधर युवा रचनाशीलता में दिखता...

कथा – गाथा : अपर्णा मनोज

     बच्चों के यौन दुराचार की खबरों से शायद ही अखबार का कोई दिन खाली जाता होगा. बाल मन पर इसका बहुत गहरा और घातक दुष्प्रभाव है. तरह-तरह की मानसिक समस्याओं...

कथा – गाथा :रिज़वानुल हक़

भारत सरकार ने ३० जून के बाद चवन्नी और उससे कम मूल्य के पैसों को बंद करने का निर्णय लिया है. उर्दू के चर्चित युवा कहानीकार रिज़वानुल हक़ की यह...

कथा – गाथा : रमेश उपाध्याय

रमेश उपाध्याय : १ मार्च, १९४२, एटा (उत्तर –प्रदेश)शिक्षा: एम.ए., पी-एच.डी.चौदह कहानी संग्रह, पाँच उपन्यास, तीन नाटक, कई नुक्कड़ नाटक, चार आलोचनात्मक पुस्तकें.अंग्रेजी तथा गुजराती से अनूदित कई पुस्तकें प्रकाशित.नाटकों...

कथा- गाथा : शिवशंकर मिश्र

शिवशंकर मिश्र : ९ अक्टूबर १९५९, (उत्तर -प्रदेश )उच्च शिक्षा – इलाहाबाद और बनारस से बाल्जाक (पीजेंट्स) और प्रेमचंद (गोदान) पर शोध कार्यकिसान संगठनों में सक्रियगायन और अभिनय भी.पत्र –...

Page 11 of 12 1 10 11 12

फ़ेसबुक पर जुड़ें

पठनीय पुस्तक/ पत्रिका

इस सप्ताह