इतिहास

गुप्तकाल में केशविन्यास: तरुण भटनागर

गुप्तकाल में केशविन्यास: तरुण भटनागर

भारत में राज्यों के उत्थान-पतन के अलावा भी अन्य क्षेत्र हैं जिनमें इतिहास को जाना चाहिए, जैसे केशविन्यास, वस्त्र, भोजन, मनोरंजन आदि. केश-सज्जा में आज भी परिवर्तन हो रहें हैं....

अरिकमेडू: तरुण भटनागर

अरिकमेडू: तरुण भटनागर

कथाकार-लेखक तरुण भटनागर के ‘भारत के विस्मृत नगर’ श्रृंखला में आपने मध्य-प्रदेश के ‘ऐरिकिण’ के विषय में पढ़ा है, इस अंक में पांडिचेरी के समीप ‘अरिकमेडू’ नगर के विषय में...

ऐरण उर्फ़ ऐरिकिण : तरुण भटनागर

ऐरण उर्फ़ ऐरिकिण : तरुण भटनागर

प्राचीन भारतीय नगरों के बनने, मिटने और खोजने की गाथा ‘भारत के विस्मृत नगर’ की पहली कड़ी ऐरण अर्थात ऐरिकिण पर आधारित है. ‘ऐरण’ मध्य प्रदेश के सागर से लगभग...

स्मृति शेष : इतिहासकार हरि वासुदेवन : शुभनीत कौशिक

स्मृति शेष : इतिहासकार हरि वासुदेवन : शुभनीत कौशिक

कोरोना समय में अलग-अलग क्षेत्रों के कई महत्वपूर्ण व्यक्तित्व हमसे हमेशा के लिए जुदा हो गए, फिल्मों से अभिनेता इरफ़ान और ऋषि कपूर, इतिहासकार हरि वासुदेवन,  समाजशास्त्री योगेंद्र सिंह और...

डॉ. काशी प्रसाद जायसवाल की इतिहास दृष्टि: कृष्ण कुमार मंडल

डॉ. काशी प्रसाद जायसवाल की इतिहास दृष्टि: कृष्ण कुमार मंडल

डॉ. काशी प्रसाद जायसवाल की इतिहास दृष्टि डॉ. कृष्ण कुमार मंडल काशी प्रसाद जायसवाल का जन्म 27नवम्बर, सन् 1881 को मिर्जापुर (उत्तर प्रदेश) में एक सम्भ्रान्त वैश्य परिवार में हुआ...

Page 2 of 2 1 2

फ़ेसबुक पर जुड़ें

ADVERTISEMENT