साहित्य

लोक के जवाहर: शुभनीत कौशिक

लोक के जवाहर: शुभनीत कौशिक

लोक-गीत संवेदना, चेतना और दृष्टि के सामूहिक स्वर हैं इसलिए अक्सर इन गीतों का कोई एक गीतकार नहीं होता. आज़ादी...

अरुण कोलटकर (3): अरुण खोपकर

अरुण कोलटकर (3): अरुण खोपकर

अरुण कोलटकर जैसे कवि-कलाकार किसी भाषा में कभी-कभी ही संभव होते हैं. वह दो भाषाओं में एक साथ हुए. ऐसे...

अरुण कोलटकर (2) : अरुण खोपकर

अरुण कोलटकर (2) : अरुण खोपकर

अरुण बालकृष्ण कोलटकर (1 नवंबर, 1932 - 25 सितंबर 2004) मराठी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं के महत्वपूर्ण कवि हैं. उनकी...

Page 2 of 144 1 2 3 144

फ़ेसबुक पर जुड़ें

ADVERTISEMENT